top of page

मैं उद्यमी हूँ 
पायनियर-कारीगर उद्यमिता इन्क्यूबेशन प्रोग्राम 2023

उद्देश्य

कार्यक्रम का उद्देश्य हस्तशिल्प कारीगरों को स्वयं की पहचान बनाने के साथ सफल व्यवसायिक उद्यमी बनने में सहायता करना है.

हस्तकला ऐसे कलात्मक कार्य को कहते हैं जो उपयोगी होने के साथ-साथ सजाने के काम आता है तथा जिसे मुख्यत: हाथ से या सरल औजारों की सहायता से ही बनाया जाता है। ऐसी कलाओं का  सामाजिक, धार्मिक एवं सांस्कृतिक महत्त्व होता है।

क्यों 

​भारत में 2 करोड़ से ज्यादा हस्तशिल्प कारीगर हैं, लेकिन इन कारीगरों की ग्राहकों के सामने खुद की पहचान, आर्थिक रूप से सफल  उद्यमी के रूप में नहीं बन पाती है. पहचान नहीं मिलने से नई पीढ़ी की भी रुचि पनप नहीं पा रही है. इन कारणों  से बहुत सारे कारीगर हस्तशिल्प कला को छोड़ रहे हैं. कई भारतीय हस्तशिल्प कला लुप्त हो रही है. 

​इन्क्यूबेशन प्रोग्राम

'मैं उद्यमी हूँ', 6 माह का इन्क्यूबेशन प्रोग्राम खासतौर से भारतीय कारीगरों को आर्थिक रूप से सफल उद्यमी बनने में सहायता करने के लिए तैयार किया गया है. यह इन्क्यूबेशन प्रोग्राम पायनियर डॉम और कारीगर क्लिनिक ने संयुक्त रूप से तैयार किया है. यह प्रोग्राम 5 मॉड्यूल्स में है, जिसे  सफल उद्यमी बनने के इच्छुक कोई भी हस्तशिल्प कारीगर ज्वाइन कर सकते हैं.

यह एक प्रोफ़शनल प्रोग्राम है. यह 100 फीसदी रियल आईडिया पर करते हुए सीखने (Learn by Doing) के लिए है.

ऑनलाइन और ऑफलाइन 

इस प्रोग्राम में 60 ऑनलाइन और 2-2 दिन की तीन ऑफलाइन वर्कशॉप होंगी. वर्कशॉप ज्वाइन करने के लिए स्मार्ट फोन/लैपटॉप/डेस्कंकटॉप कंप्यूटर और अच्छा इन्टरनेट कनेक्शन होना आवश्यक है. कारीगर के लिए  सप्ताह में दो दिन 2-2 घंटे का सेशन होगा. ऑफलाइन वर्कशॉप की जानकारी 20 दिन पहले दे दी जाएगी.

मॉड्यूल्स

यह एक प्रोफ़शनल प्रोग्राम है. यह 100 फीसदी रियल आईडिया पर करते हुए सीखने (Learn by Doing) के लिए है. प्रोग्राम को 5 मॉड्यूल्स में तैयार किया गया है. 

यह एक प्रोफ़शनल प्रोग्राम है, इसलिए कारीगरों की तात्कलिक जरूरत को समझते हुए सेशन में थोडा-बहुत बदलाव हो सकता है.  सब्जेक्ट एक्सपर्ट के सेशन पूरी तरह से सरल और आसानी से समझ में आने वाली हिंदी भाषा में होंगे. बोलचाल की भाषा में उपयोग होने वाले अंग्रेजी शब्दों का उपयोग किया जा सकता है.

मॉड्यूल 1 -

उद्यमिता - क्यों से शुरू करें - 

  • पायनियर डॉम और कारीगर क्लिनिक के बारे में

  • कारीगर को प्रोग्राम किस तरह से ज्वाइन करना है और कैसे पूरा करना है 

  • खुद की पहचान क्यों जरूरी है

  • उद्यमिता का उद्देश्य

  • क्यों से शुरू करें 

  • भारतीय हस्तशिल्प उद्योग का बाजार 

  • विश्व स्तर पर भारतीय हस्तशिल्प की मांग 

  • हस्तशिल्प बाजार, ग्राहक की पहचान और उसे समझना - शोध कार्य 

  • चुनौतियां और अवसर

  • कारीगर क्या सीखेंगे और कौन-कौन सा कौशल (स्किल) बढ़ेगा 

  • ​इस मॉड्यूल से क्या सीखा 

मॉड्यूल 2 -

उद्यमी की मानसिकता (माइंडसेट)  

  • उद्यमी की मानसिकता (Mindset) कैसी होनी चाहिए  ?

  • अब तक के जीवन के कहानी 

  • भविष्य के सपने - जीवन में क्या पाना चाहते हैं 

  • कौशल और क्षमता की पहचान करना 

  • व्यक्तित्व की पहचान करना 

  • कौशल, क्षमता, अवसर और चुनौतियों को पहचानना

  • ​सपने पूरे करने की कार्ययोजना ( पिच लिखित में) 

  • पिच अभ्यास - 1

  • इस मॉड्यूल से क्या सीखा 

मॉड्यूल 3 -

उद्यमिता रेसेपी - अभ्यास करते हुए क्षमता बढ़ाना 

  • उद्यमिता एक लम्बी दौड़ है 

  • उद्यमिता की रेसेपी 

  • उद्यमिता पिच क्या है और बनाना

  • क्या कर रहे हैं और क्यों कर रहे हैं

  • टारगेट यूजर कौन है 

  • शार्ट टर्म और लॉन्ग टर्म गोल बनाना

  • उद्यम का SWOT एनालिसिस क्या है और कैसे करना है?

  • क्या क्षमता है और कौन सी क्षमता चाहिए 

  • उद्यम की कार्य योजना 

  • उद्यम का लीगल स्ट्रक्चर 

  • ​पिच अभ्यास - 2 

  • ​अनुभव बताना

मॉड्यूल 4 -

उद्यमिता बिज़नस मॉडल कैनवास  - बिज़नस फ्रेमवर्क पर काम करना 

  • उद्यमिता बिज़नस मॉडल कैनवास  

  • उद्यम का मॉडल

  • उद्यम का बिज़नस मॉडल

  • उद्यम का वित्तीय अकाउंट - कैश फ्लो 

  • क्राफ्ट सिलेक्शन करना

  • क्राफ्ट डिजाईन

  • क्राफ्ट फोटोग्राफी

  • क्राफ्ट की पैकेजिंग 

  • क्राफ्ट की मार्केटिंग और ब्रांडिंग

  • सोशल मीडिया मार्केटिंग

  • हस्तशिल्प का वितरण चैनल 

  • फील्ड विजिट 

  • ​पिच बनाना और करना  

  • ​पिच अभ्यास - 3

  • ​अनुभव बताना 

मॉड्यूल 5 -

उद्यमिता क्लोज द डील - व्यापार को तेज गति से आगे बढ़ाना 

  • उद्यमिता तेज गति से आगे कैसे बढ़ायेंगे

  • उद्यमिता में इनोवेशन 

  • ​सहयोगी संगठन की पहचान और साथ में काम करना 

  • पिच करना 

  • निगोशिएट्‌ करना 

  • डील क्लोज करना 

  • हस्तशिल्प व्यापार को तेज गति से आगे बढ़ाना

  • पिच बनाना और करना 

  • ​पिच अभ्यास - 4

  • अनुभव बताना

कारीगर  - सीट्स 

  • 6 माह के इस एक्इशन ओरिएंटेड प्रोफेशनल प्रोग्राम को  20 से 25 कारीगर ज्वाइन सकते हैं. सभी कारीगरों को तीन स्तरीय चयन प्रक्रिया द्वारा चयनित कर प्रोग्राम में शामिल किया जायेगा.

  • इस प्रोग्राम का उद्देश्य स्तशिल्प कारीगरों को स्वयं की पहचान के साथ सफल व्यवसायिक उद्यमी बनने में सहायता करना है.

कारीगर  - योग्यता 

  • 6 माह के इस एक्इशन ओरिएंटेड प्रोफेशनल प्रोग्राम को  20 से 25 कारीगर ज्वाइन सकते हैं. सभी कारीगरों को तीन स्तरीय चयन प्रक्रिया द्वारा चयनित कर प्रोग्राम में शामिल किया जायेगा.

  • इस प्रोग्राम का उद्देश्य स्तशिल्प कारीगरों को स्वयं की पहचान के साथ सफल व्यवसायिक उद्यमी बनने में सहायता करना है.

Let’s Work Together

500 Terry Francois Street 

San Francisco, CA 94158

Tel: 123-456-7890

  • Facebook
  • Twitter
  • LinkedIn
  • Instagram
Thanks for submitting!
bottom of page